The Power of Silence IN Hindi

🤐 “The Power of Silence IN Hindi”: चिंता और तनाव से निपटने का राज

हे दोस्तो !आप सब का स्वागत है,आज आप इस लेख में बहुत महत्वपूर्ण जानकारी हासिल करने वाले हैं आज का टाइटल है The Power of Silence IN Hindi

अक्सर इंसान मौन की शक्ति से अनजान रहता है जबकि यह शक्ति आपको सफलता की ओर ले जा सकती है। इस शक्ति का इस्तेमाल करके आप बाहर की ध्वनियों को अनसुना कर सकते हैं और अपने लक्ष्य की ओर बढ़ सकते हैं।

The Power of Silence IN Hindi

कुछ लोगों के लिए चुप्पी असहज और डरावना अनुभव है लेकिन आप अपना नजरिया बदल कर देखिए आपको एहसास होगा कि चुप्पी में आप अपने अंदर की आवाज सुन पाते हैं और अपने लक्ष्य की ओर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं।

चुप रहना एक ऐसी शक्ति है जिस की सहायता से हम किसी बात को गहराई से समझ सकते हैं और अपने कार्य में ऊर्जा बढ़ा सकते हैं।

क्या आपको मालूम है जब हम चुप रहते हैं तब हम अच्छे से निर्णय ले पाता है और हम अपना ध्यान अपने लक्ष्य पर लगा पाते हैं।

आपने खुद भी महसूस किया होगा जब कभी भी आप शांत रहते हैं तो उस समय आपको निर्णय लेने में ज्यादी दिक्कत नहीं होती होगी ।

आजकल के तनाव भरे माहौल में हर किसी को अपनी आत्मिक शक्ति इस्तेमाल करने में दिक्कत हो रही है ।यदि आप आत्मिक शक्ति इस्तेमाल करना चाहते हैं तो सबसे बड़ी शक्ति जो है ‘चुप्पी ‘ इसका इस्तेमाल करना सीखें ।

The Power of Silence IN Hindi

जरूरी नहीं है कि हर वक्त हम बोलकर ही अपना काम कर सकते हैं ,कुछ निर्णय आप शांत रहकर भी अच्छे से ले पाएंगे ।

अक्सर आपने देखा होगा जो भी आज महान हस्ती है वह बोलते कम और कार्य ज्यादा करते हैं ।इसका मुख्य कारण यह है कि वह अपने आसपास शांति बनाए रखते हैं जिसकी वजह से वह अपने लक्ष्य पर ध्यान दे पाते हैं और सफल व्यक्ति बन जाते हैं ।

जो लोग नकारात्मक विचार रखते हैं वहां अक्सर छोटी सी दिक्कत होने से भी परेशान हो जाते हैं ।वहीं दूसरी ओर जो लोग सकारात्मक विचार रखते हैं , जब कभी भी उनके सामने परेशानी आती है तो वहां चुप्पी की शक्ति का इस्तेमाल करते हुए अपनी समस्या का समाधान निकाल लेते हैं । इसी वजह से वह जीवन में हमेशा सफलता की सीढ़ियां चढ़ते जाते हैं और अपना नाम इस जग में बना देते हैं ।

Also read👇👇👇

what is the power of self love ?

Top 3 Inspiring stories With Moral

चुप्पी की शक्ति का इस्तेमाल करके आप किसी की दिल की बात भी जान सकते हैं और अपना नाता भगवान के साथ भी जोड़ सकते हैं ।

मौन का मतलब चुप्पी जरूर है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आप हमेशा ही शांत रहेंगे ।जब व्यक्ति को मालूम चल जाता है कि किस समय कितना बोला उसके लिए उचित रहेगा तो वह जीवन में कामयाबी की ओर बढ़ता है ।

इसके विपरीत जब व्यक्ति को यह नहीं मालूम होता है कि कब कितना बोला उसके लिए उचित रहेगा तो वहां विपत्ति में फंस जाता है इसलिए सीखे कब , कितना ,कहां बोलना उचित रहेगा ।

The Power of Silence Benefits

चलिए मैं आपको मौन रहने के फायदे गिनाती हूं –

1 .मौन रहने से आप लोगों को विचारों में उलझा के रख सकते हैं –

आचार्य चाणक्य की चाणक्य नीति किसने नहीं पढ़ी ,आपने यहां बात पढ़ी ही होगी कि आचार्य जी ने अपने दुश्मनों को खामोशी में उलझा कर रखा ।

जिसकी वजह से वह उचित समय पर अपने दुश्मनों पर वार करते थे ।दुश्मन हमेशा उलझे रहते थे कि चाणक्य की अगली रणनीति क्या होगी ?

लेकिन वहां अपनी खामोशी के जरिए अपने दुश्मनों को उलझा कर रखते थे । जिसकी वजह से वह हार जाते थे और चाणक्य जी अपनी रणनीतियों से विजय हासिल कर लेते थे ।

आपने देखा ही होगा कि जब कोई व्यक्ति ज्यादातर मौन रहता है तो अक्सर लोग उसकी बात पर ज्यादा ध्यान देते हैं और जो लोग हमेशा बकबक करते रहते हैं दुनिया उन्हें नजरअंदाज करती है इसलिए मौन की शक्ति को पहचाने ।

2. मोलभाव के वक्त मौन का सहारा ले –

जब भी आप सामान खरीदने गए हो तो तुरंत जवाब देने की कोशिश ना करें ।

मान लेते हैं कि आप कोई सामान खरीदने गए हैं अगर आपने सेल्समैन के सामने तुरंत जवाब दे दिया तो वह समझ जाएगा कि आप लेने के लिए इच्छुक है या आप खरीदना हीं ले चाहते ।

यदि आप समान लेना चाहते हैं लेकिन मोलभाव भी करना चाहते हैं तो उस समय आप बातचीत के दौरान मौन कुछ पल के लिए मौन हो जाएं ।

इसे सामने वाला व्यक्ति यह सोचने में मजबूर हो जाएगा कि आप सोच कह रहे हैं ?

कहीं आप यह डील कैंसिल ना कर दें ।

हड़बड़ाहट में वह सेल्समैन आपको कई बेनिफिट्स भी बताएगा और हो सकता है कि Deal की value भी कम कर दे ।

देखा दोस्तों कुछ पल का मौन भी आपको फायदा पहुंचा सकता है ।

3.बोले कम सुने ज्यादा –

ज्यादातर Relation तब टूट जाते हैं जब कोई एक दूसरे की बात सुनता ही नहीं है ।यदि आप भी ऐसे हैं तो आज से ही अपने behaivour में changes लाएं ।जब आप सामने वाले व्यक्ति की बात ध्यान से सुनएंगे तो वह भी आपकी बात पर ध्यान देगा और इसी वजह से आप दोनों का रिश्ता मजबूत बनेगा ।

4 .उचित उत्तर पाएं –

कुछ लोगों की आदत होती है कि वह एक प्रश्न पूछने के बाद तुरंत दूसरा प्रश्न पूछ लेते हैं जबकि एक प्रश्न पूछने के बाद कुछ समय के लिए मौन हो जाना चाहिए ताकि आप सामने वाले व्यक्ति की राय जान पाएं ।

आप ही राय दे देंगे तो आप सामने वाले का नजरिया कभी नहीं समझ पाएंगे इसलिए हमेशा प्रश्न पूछने के बाद कुछ समय के लिए मौन हो जाएं और सामने वाले के विचार समझे ।

5. मौन से अपने आप को विन्रम बनाएं –

जरूरी नहीं है कि हर समस्या का समाधान आप लड़ाई झगड़े के साथ ही समाप्त करें ।कई बार आप मौन का सहारा लेकर भी समस्या का समाधान निकाल सकते हैं ।

मान लेते हैं कि आप कहीं जरूरी काम के लिए जा रहे हैं और आपकी दोस्त ने कह दिया कि जहां आप जा रहे हैं वहीं पर यहां सामान डिलीवर Please कर दो ।

आपने उसकी बात मान ली लेकिन सामान पहुंचाने में इतना समय लग गया कि आप अपना काम ही नहीं कर पाए तो अगर आप उस समय मौन धारण कर लेते तो वह सामने वाला व्यक्ति समझ जाता है कि आप यह कार्य नहीं कर पाएंगे ।

कई बार कुछ लोगों के लिए ‘ना’ बोला मुश्किल हो जाता है इसलिए यदि आपको ना बोलने में तकलीफ है तो सामने वाले व्यक्ति की बात सुनने के बाद कुछ समय मौन हो जाएं ।

6.मानसिक शांति –

मानसिक शांति प्राप्त करने के लिए आपको चुप्पी की शक्ति को पहचाना होगा ।जब कभी भी इंसान मौन का अनुभव करता है तो उसके सारे विचार जो उसे तंग कर रहे होते हैं कुछ पल के लिए शांत हो जाते हैं ।आप स्वयं को मौका देते हैं खुद के साथ जुड़ने का , उस समय आपको मानसिक शांति मिलती है ।

7.अच्छी आत्म-प्रतिष्ठा बनाएं –

चुप्पी की शक्ति जब आपको पता लग जाएगी तब आप इसका इस्तेमाल अपने दिन चार्य में करने लग जाएंगे । क्या आपको मालूम है आप power of silence का इस्तेमाल करके अपनी self respect बढ़ा सकते हैं ?

जी हां जब इंसान अपने अंदर की आवाज सुनता है तो उसे समझ आता है कि कौन से कार्य में उसे ज्यादा वक्त देना चाहिए ? जब आप अपनी दिक्कतों को दूर करते हुए अपने लक्ष्य की ओर जाते हैं तब आपका आत्म – प्रतिष्ठा बढ़ता है ।

The Power of Silence IN Hindi

8 . विचारशक्ति बढ़ाना –

जब आप मौन रहते हैं तब आपके विचार आप खुद समझ पाते हैं जिसकी वजह से आपकी विचार शक्ति बढ़ती है ।मन शांत होने की वजह से अंदर की उत्तल पुथल इंसान खुद समझ पाता है जिसके कारण वहां अपने सभी समस्याओं का निवारण कर पाता है और अपने विचार सही जगह ले जा पाता है ।

FAQ ( The Power of Silence IN Hindi)

Q .मौन का अर्थ क्या है ?

Ans.मौन का मतलब होता है ‘ चुप्पी ‘ या ‘साइलेंट’ । मौन की शक्ति का इस्तेमाल बड़ा इंसान बनने के लिए आप कर सकते हैं। जब इंसान को मन की शक्ति का अंदाजा लग जाता है तो वहां बड़ी से बड़ी चुनौतियों का सामना कर सकता है और अपने जीवन में हर लक्ष्य को प्राप्त कर सकता है

Q .चुप्पी के लाभ क्या है?

Ans.चुप्पी के लाभ तो अनेक है क्योंकि इसकी सहायता से हम मानसिक ,शारीरिक और आध्यात्मिक रूप से सुख प्राप्त कर सकते हैं।

उम्मीद है आपको यह लेख The Power of Silence IN Hindi की जानकारी पसंद आई होगी । अपने उन दोस्तों के साथ शेयर करना मत भूलिएगा जो बहुत बोलते हैं😌😂 !अपना कीमती समय देने के लिए धन्यवाद 🙏😊💕

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
YouTube
Pinterest
LinkedIn
Share
Instagram