12 Power Principles for Success in Hindi

Journey to Success:12 Power Principles for Success in Hindi

आज का लेख “12 Power Principles for Success in Hindi” को पढ़ने के बाद आपको Success से जुड़ी सभी प्रश्नो के जवाब मिल जाएंगे ।

12 Power Principles for Success in Hindi

सफलता हर कोई पाना चाहता है लेकिन कई बार मन में सवाल आता है कौन से तरीको को हम फॉलो कर सकते हैं जिससे हम कम समय में सफल बन जाएं ।

दोस्तों इस लेख में बताई गई सभी बातों को अगर आप अपने जीवन में लागू कर लेते हैं तो यकीन मानिए सफलता आपसे दूर नहीं रहेगी ।

इन सिद्धांतों का पालन तो सफल व्यक्ति भी करते हैं क्योंकि उन्हें सफलता का राज मालूम चल गया है ।

परिचय

इस किताब के लेखक ने सफलता का राज हम सबके सामने रख दिया है ताकि हर वह व्यक्ति जिसके मन में सफल होने की इच्छा है वह इन नियमों का पालन करें और अपने जीवन में सफ़लता हासिल कर ले ।

इस लेखक “Bob Proctor”ने जो अपने करियर के दौरान सीखा और समझा , उन सभी बातों को एक बुक में लिख दिया है ताकि हर कोई उनकी समझ का फायदा उठा सके ।

12 success principles को इतने सरल भाषा में Bob Proctor ने समझाया है चलिए समझते है कि 12 success principles क्या है ?

The Success Principles Summary in Hindi 

अध्याय 1. सफ़लता

हम में से कई लोग ऐसे हैं जो सोचते हैं की सफलता प्रसन्नता की कुंजी है, लेकिन दोस्तों ऐसा नहीं है ।खुशहाली सफलता की कुंजी है यदि आप अपने कार्य से प्रेम करेंगे तो यकीनन अच्छे से करेंगे और लंबे समय तक अपने काम में टिके रहेंगे ।

लेखक का कहना है कि सफल होने के लिए सिर्फ आपको सही रास्ते पर चलना जरूरी है ।जो व्यक्ति सही रास्ते पर चलकर अपना कार्य दृढ़ संकल्प के साथ करता रहता है और अपने कार्य से प्रेम करता है उसे सफल होने से कोई नहीं रोक सकता ।

लेखक का कहना है कि जिस व्यक्ति को सफल होने की इच्छा है उसे अपना कार्य रोजाना करते रहना चाहिए । कुछ लोग ऐसे भी होते हैं कि एक दिन तो बहुत अच्छे से कार्य करते हैं लेकिन फिर एक हफ्ते की छुट्टी ले लेते हैं ।जो व्यक्ति सफल होना चाहते हैं उसे रोजाना कार्य करना होगा और कार्य के दौरान ऐसे कई लोग आपको मिलेंगे जो आपके कार्य में बाधाएं डालेंगे लेकिन उन सबको नजर अंदाज करते हुए सिर्फ आपको अपने कार्य पर ध्यान देना है ताकि आप सफल हो पाए और अपना नाम बन पाएं ।

जो लक्ष्य आप पाना चाहते हो आपके दिमाग में clear image होना चाहिए ताकि आप उस पर रोजाना कार्य करते हुए अपने आप को बेहतर बना सके ।

अध्याय 2. फ़ैसला

फैसला करना एक बहुत महत्वपूर्ण कार्य होता है बहुत से लोग ऐसे आपको जीवन में मिल जाएंगे जो फैसला लेने से कतराते हैं और इल्जाम दूसरे पर डाल देते हैं ।

  •  मैं इसलिए सफल नहीं हुआ क्योंकि मुझे किसी ने आगे बढ़ने नहीं दिया
  • मैं इसलिए सफल नहीं हुआ क्योंकि घर की परिस्थितियों मेरे साथ नहीं थी ।

दोस्तों यह सब बहाने होते हैं इंसान अगर फैसला कर ले कि उस जीवन में क्या चाहिए और अपनी सूझबूझ के अनुसार जानकारी प्राप्त कर ले कि इस कार्य में वह कितना सक्षम हो सकता है या इस कार्य में कैसे महारत हासिल कर सकता है ?तो यकीन मानिए वह सफल हो जाएगा क्योंकि जब इंसान खुद फैसला लेता है तो अपने मुताबिक अपनी कैपेबिलिटी को enhance करने की पूरी कोशिश करता है ।Also read 👇👇

सकारात्मक सोच का जादू – :Mental diet book Summary In Hindi

Jeevan Ki Raah Mein Khud Se Prem:love yourself as your life depends on itमहान व्यक्ति भी अपने जीवन के निर्णय खुद लेते हैं क्योंकि जो निर्णय खुद जांच पारक कर किया जाता है ।हर इंसान में इतनी क्षमता होती है कि वह सही गलत पहचान सके और अपना निर्णय लेकर आगे बढ़ सके ।

12 Power Principles for Success in Hindi

दोस्तों यदि हम निर्णय ही नहीं लेंगे तो क्या बैठे-बैठे हमारा जीवन बदल जाएगा “नहीं ना”

calculative risk ले ताकि आप जीवन में आगे बढ़ पाए और अपना नाम इस दुनिया में बना पाए ।

जो लोग निर्णय लेते हैं वह आज नही तो कल सफलता पा लेते हैं लेकिन जो लोग निर्णय लेने से डरते हैं वह जीवन में कुछ भी हासिल नही कर पाएंगें और निराशा भरा जीवन जीते रहेगें।

दोस्तों गलतियों से सीखे और कभी आपका निर्णय गलत हो जाए तो खुद पर गुस्सा करने से अच्छा है कि आप अपनी गलतियों से सीखे और अपने आप को और पावरफुल बनने का पूरा जोर लगा दे ।

Never afraid to make mistakes

गलतियां भी वह इंसान करता है जो कार्य करता है नहीं तो बैठे-बैठे शिक्षा लेने से कुछ हासिल नहीं होता ।

एक्सपीरियंस आदमी ही अपनी गलतियों से सीखता है और जीवन में आगे बढ़ता है ।

Goal ( clear vision )
Decision
planning
Experiment
Experience
Success

हर कोई अपने जीवन में सफलता के सपने देखता है । बेतहाशा सपनाओं को वास्तविकता में बदलने के लिए यदि आज आप निर्णय लेंगे तो ही कल आप सफलता का चेहरा देख पाएंगे ।

Clarity रखें कि आज आप कहां है और कल आप कहां पहुंचाना चाहते हैं ?जब क्लेरिटी होती है तो इंसान निर्णय आसानी से ले लेता है और अपनी मंजिल हासिल कर लेता है ।

keep learning

कभी भी अहंकार में मत रहे कि हमें सब मालूम है ।महान लोगों के तौर तरीकों का अध्यान करते रहे ताकि आप अपने जीवन में उनके तौर तरीके अपना ले।

जरूरी नहीं है कि इंसान गलती करे तब ही सीखें हम दूसरों की गलतियां देखकर भी समझ सकते हैं कि कौन सी तरीका लागू करने से हमारे जीवन बदल सकता है ।

The Success Principles by Bob Proctor 

अध्याय 3. जोखिम

जीवन में अगर सुरक्षित रहना चाहते हो तो risk रोजाना लेना सीखो ।महान लोग हर दिन अपने जीवन में risk लेते हैं ताकि वह अपने कल को बेहतर बना पाएं ।

रोजमर्रा काम से थोड़ा हटकर आप अपने लिए विशिष्ट कार्य चुनते हैं और अपने आप को काबिल बनने के निर्णय को पूरा करने के लिए उस पर कार्य करते हैं ।

अपने जीवन में आगे बढ़ाना थोड़ा मुश्किल जरूर हो सकता है क्योंकि रोजमर्रा के काम से हटकर जब आप अपनी छवि बनाने में लग जाते हैं तो दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है लेकिन एक बात याद रखिए ।

जिंदा इंसान के सामने ही दिक्कतें आती हैं नहीं तो मुर्दों के सामने तो हर कोई रास्ता छोड़ देता है ।

risk ले और आगे बढ़ाना सीखें ताकि आप आगे बढ़ पाए और सुनहरे अक्षरों में अपना नाम लिख पाएं ।

12 Power Principles for Success के मुताबिक जो व्यक्ति अपनी गलतियों से सीखता रहता है वह महान बन जाता है और उसका एक्सपीरियंस ही उसे सफलता की ओर ले जाता है ।

असल में हारता वह इंसान है जो अपनी हार खुद मान ले ।अगर व्यक्ति अपनी गलतियों से सीख कर आगे बढ़ता रहे तो वह अपनी मंजिल प्राप्त कर लेता है ।

बात सुनने में बुरी जरूर लगती है लेकिन सच्चाई यह है कि जीवन में हम ज्यादातर अपनी असफलताओं के कारण ही अपनी गलती समझते हैं ।

दोस्तों गलतियां समझने के बाद उन गलतियों को समझे कि कहां आपने गलती की ताकि आप अपने भविष्य में उन गलतियों को दोबारा दोहराएं ना ।

जो इंसान हमेशा अपने आप को सुरक्षित रखना चाहता है वह कभी भी risk न लेता है और ना ही कोई जोखिम ।

Take challenges every day

सफल व्यक्ति ठीक इसका उल्टा कहते हैं वे हर रोज निर्णय लेते हैं और खुद को चुनौतियां देते हैं ताकि वे अपने कल को बेहतर बना पाएं और आगे बढ़ पाएं ।

comfort zone में रहकर कोई भी अपनी तकदीर नहीं बदल सकता ,तकदीर बदलने की इच्छा रखते हैं तो कदम खुद ही उठाना होगा ।

जो इंसान जोखिम उठाकर अपने जीवन में आगे बढ़ाना जानता है उसे सफलता से दूर रखना नामुमकिन है ।

अगर आपकी मानसिकता है कि जो है ,जितना है वही सही है तो दोस्तों आज ही इस मानसिकता को बदल दें ताकि यह सोच आपका भविष्य ना खराब कर दे ।

अध्याय 4. अटलता (persistence)

कुछ लोगों का स्वभाव होता है कि जरा सा परेशानी आती है तो वह अपने लक्ष्य को बदल देते हैं लेकिन दोस्तों ऐसा कोई भी लक्ष्य नहीं होता है जो आसानी से प्राप्त हो जाएं ।आपको दृढ़ संकल्प के साथ आगे बढ़ते रहना पड़ेगा क्योंकि जो इंसान अपना रास्ता पल-पल बदलता है उसे लक्ष्य कभी भी हासिल नहीं होता ।जीवन में लक्ष्य वही इंसान प्राप्त कर सकता है जो परिस्थितियों के सामने माथा न टेके और दृढ़ संकल्प के साथ अपना कार्य करता रहे ।

समर्पण और दृढ़ संकल्प के साथ आप आगे बढ़े यकीन मानिए आप सफल जरूर हो जाएंगे ।

जिद्द व्यक्ति ही इतिहास रचते हैं और साधारण व्यक्ति उन लोगों का इतिहास पढ़ते हैं ।

अपने लक्ष्य को प्राप्त करने की ज़िद को इतना बड़ा कर दो कि अन्य कोई समस्या आपके सामने टिकी ना पाएं ।

जिद्दी इंसान ही अपने लक्ष्य को प्राप्त कर पाते हैं क्योंकि जो पल-पल डोलता रहता है उसका कुछ नहीं हो सकता ।

ना ही वह लक्ष्य को प्राप्त कर पाता है और ना ही अपने जीवन खुशहाली से बीता पाता है ।

कहते हैं दोस्तों जो जीवन हम अपनी शर्तों पर ना बिता पाएं वह क्या जीवन होता है , वह जीवन इंसान सिर्फ काट रहा होता है ,अगर आप जीवन जीना चाहते हैं तो लक्ष्य के प्रति ज़िद्दी बन जाओ ताकि आप अपनी ज़िद के सामने किसी और को टिकने ना दो और अपना लक्ष्य हासिल कर लो ।

लगन से किया हुआ कार्य आपको आपकी मंजिल तक जरूर पहुंचा देगा ।

क्या आप ऊंचाई का आनंद नीचे खड़े होकर अंदाजा लगा सकते हैं नहीं ना !

ऊंचाई का आनंद लेना चाहते हैं तो ऊंचाई तक पहुंचाना पड़ेगा तभी आप ऊंचाई का आनन्द ले पाएंगे ।

ऊंचाई की कीमत समझें और दृढ़ संकल्प के साथ आगे बढ़ते जाएं ।

Also read 👇👇

12 Power Principles for Success

Super Ameer Banne Ki Master Key

अध्याय 5. जिम्मेदारी

जीवन में आपको कई लोग ऐसे मिल जाएंगे ,जो अपनी खुद की जिम्मेदारी नहीं लेते हैं वे सोचते हैं कि मेरे साथ जो भी कुछ हो रहा है वह लोगों की वजह से हो रहा है ।

यहां इतना प्यार झूठा है जिसके जरिए इंसान अपने आप को बचाता है और दूसरों को blame करता है ।

दोस्तों यह जीवन आपका है और आप अपने जीवन के जिम्मेदार व्यक्ति बन सकते हैं ,जब आप खुद की जिम्मेदारी लेंगे ।

महान व्यक्ति हमेशा अपने कार्यों की जिम्मेदारी लेते हैं ताकि वे किसी पर blame न कर पाएं और खुद की जिम्मेदारी जब इंसान लेता है तो उसका सेल्फ कॉन्फिडेंट बढ़ता है और वह जीवन में वह सब चीज हासिल कर लेता है जो वह प्राप्त करना चाहता है ।

12 Power Principles for Success Book

में समझाया गया है कि जो व्यक्ति खुद की जिम्मेदारी लेकर आगे बढ़ता है इसका मतलब है कि उसे अपनी क्षमताओं पर पूरा भरोसा है और जब हम खुद की जिम्मेदारी लेकर आगे बढ़ते हैं तो यकीन मानिए दोस्तों लक्ष्य को प्राप्त कर लेते हैं ।

रोजाना खुद से कहें कि

  •  मैं अपनी जिम्मेदारी लेने के लिए सक्षम हूं ।
  • मेरी क्षमताएं दिन-ब-दिन बढ़ रही हैं ।
  • मैं अपने लक्ष्य को पाने के लायक हूं ।

अध्याय 6. आत्मविश्वास -(Confidence)

आत्मविश्वास एक मानसिक स्थिति है जिसे हर इंसान विकसित कर सकता है ।कुछ लोग सोचते हैं कि आत्मविश्वास इंसान जन्म से लेकर आता है जबकि यह बात गलत है ।

हर इंसान अपने अंदर आत्मविश्वास को बढ़ा सकता है लेकिन केवल तब जब वह इसकी कीमत चुकाने के लिए तैयार हो ।

आप जब आत्मविश्वास बढ़ाने के बारे में सोच रहे हो तो खुद से अपने आप को एक star के रूप में देखें और अपनी क्षमताओं पर यकीन रखें तब ही आप अपने सपने के बारे में दूसरों को विश्वास से बता पाएंगे और आपका आत्मविश्वास ही आपको आपकी मंजिल की ओंर लेकर जाएगा ।

अध्याय 7. काम करना (Action)

जितनी भी बातें आपने अभी तक पढ़ी और समझी है यह सब बेकार जाएगी यदि आप कोई क्रिया करने के लिए तैयार ना हो । सफलता सिर्फ सोचने से हासिल नहीं हो जाती है जो लक्ष्य आपने सोचा है उसके लिए कार्य करना भी आवश्यक है ।

ज़रा सफल व्यक्ति को देखेंगे तो आप जानेंगे कि वह कभी भी लक्ष्य बनाकर बैठे नहीं रहते हैं ।

लक्ष्य बनाते ही वह अपने कार्य में लग जाते हैं ताकि वह अपने लक्ष्य को जल्दी से जल्द प्राप्त कर पाएं ।

जो लोग सोचते रहते हैं कि मैं कल से कार्य शुरू करूंगा यकीन मानिए दोस्तों उनका कल कभी नहीं आता ।

वे बहाने बनाने में expert होते है और अपने कंफर्ट जोन में बैठे रहते हैं ताकि वे सपनों की बाते करते रहे और काल्पनिक जीवन में खुश रहे ।

अध्याय 8. धन

हर कोई अपनी सेवा प्रदान करके पैसा कमा रहा है ।जो इंसान अधिक सेवा प्रदान करते हैं उसे अधिक पैसा मिलता है ।

97%लोग ऐसे हैं जिन्हें पता ही नहीं है कि पैसा कैसे कमाएं जा सकता है ?

काम तो एक मज़दूर भी करता है लेकिन वह अपने कमाएं हुए पैसे से अपने जीवन में खुशहाली से नहीं रह पाता क्योंकि वह सिर्फ मेहनत करता है ।

यदि आप Smart work से पैसा कमाएंगे तो आप अपने जीवन में खुशहाली भी ला पाएंगे और भरपूर मात्रा में पैसा भी रख पाएंगे ।

12 Power Principles for Success Summary में समझाया गया है कि धन को अगर अपनी और आकर्षित करना चाहते हैं तो आपको अपनी काबिलियत बननी चाहिए ताकि आप अधिक से अधिक धन को अपनी ओर आकर्षित कर सके ।

चोरी, डकैती, खून-खराबा बहुत ज्यादा बढ़ गया है क्योंकि लोग पैसा तो चाहते हैं लेकिन अपने काबिलियत को नहीं बढ़ाना चाहते ।धन जो आप अपनी काबिलियत से बढ़ाएंगे वह आपको जीवन भर सुख देगा क्योंकि आपकी काबिलियत कोई आपसे छीन नहीं सकता और सर उठाकर जीने से आप गर्व महसूस करेंगे ।

खुशी से जीने के लिए आपको कितने पैसे की आवश्यकता है पहले यह कैलकुलेट करें फिर उस हिसाब से आपको अपनी सेवाएं बढ़ाने के बारे में सोचना होगा ।

समझे कि लोगों को किस चीज की आवश्यकता है उसमें आप अपनी सेवा कैसे प्रदान कर सकते हैं ? जितनी सेवा आप अधिक प्रदान करेंगे उतना धन आप के पास आएंगे इसलिए अपनी सेवाएं बढ़ाने के बारे में सोचें ताकि आप अपना धन बढ़ा पाएं ।

अध्याय 9. लक्ष्य

बहुत से लोग ऐसे होंगे जो अपने लाइफ में बड़ा लक्ष्य बनाने से घबराते हैं क्योंकि वह अपने कंफर्ट जोन को छोड़कर अधिक मेहनत नहीं करना चाहते ।

वे हमेशा छोटा लक्ष्य बनाते हैं और सोचते हैं कि जितनी छोटी राह होगी उतनी जल्दी वे सफल होंगे लेकिन दोस्तों यह उनका वहम होता है ।

जो लोग बड़े लक्ष्य बनाते हैं वह बेशक अपने कंफर्ट जोन से निकलकर अधिक मेहनत करते हैं लेकिन सफलता उनके कदम चूमती है और वह अपनी जिंदगी खुशहाली से जी पाते हैं क्योंकि उनके पास पैसे की कोई कमी नहीं रहती और बड़े लक्ष्य प्राप्त करने के बाद उनका नाम रोशन हो जाता है , जिसके लिए वे कड़ी मेहनत करने के लिए तैयार रहते हैं वहीं दूसरी ओंर छोटे लक्ष्य बनाने वाले हमेशा दर बदर की ठोकरे खाते रहते हैं और अपनी जिंदगी को कोहते रहते हैं ।

दोस्तों हर एक जिंदगी में उतार चढ़ाव आते हैं अगर आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करना चाहते हैं तो इन उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ेगा ।

कोई भी इंसान जो आज की डेट में प्रसिद्ध है उसने भी बड़ा लक्ष्य बनाया होगा और असुविधा मार्ग पर चला होगा तभी वह इंसान अपने लक्ष्य को प्राप्त कर पाएं हैं ।

कोई भी चीज आसानी से प्राप्त नहीं होती है उसके लिए कड़ी मेहनत और दृढ संकल्प के साथ कार्य करते रहना पड़ता है ।

अध्याय 10. नज़रिया (Attitude)

दोस्तों हर इंसान का नजरिया अलग होता है ,कुछ लोग विपरीत स्थिति देखते ही घबरा जाते हैं वहीं दूसरी ओर कुछ लोग अपने नजरिए के कारण ही महान बन जाते हैं ।

कई बार परिस्थितियां हमारे अनुकूल नहीं होती है लेकिन हमारा नजरिया बहुत मायने रखता है ।

यदि आप विपरीत स्थिति में डगमगाते है तो कभी भी आप अपने लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर पाएंगे और वहीं यदि आपका नज़रिया सकारात्मक रहा तो कोई भी परिस्थिति आपको तंग नहीं कर सकती ।

हमारी प्रतिक्रिया बहुत मायने रखती है ,यदि आप गलत प्रतिक्रिया देंगे तो आप अपना काफी समय नष्ट करेंगे और अपने लक्ष्य की ओर जाने वाले रास्तों को बंद कर देंगे ।

सही नजरिया आपके जीवन में कामयाब ला सकता है इसके विपरीत यदि आपका नजरिया गलत है तो कोई भी आपको सही मार्ग नहीं दिखा सकता ।

अध्याय 11. रचनात्मकता (Creativity)

12 Power Principles for Success Hindi किताब हमें बताती है की रचनात्मक होना कितना आवश्यक है । कुछ लोग सोचते हैं कि केवल लेखको ,संगीतकारों और कलाकारों या अभिनेताओं के पास ही क्रिएटिविटी स्किल होती है लेकिन उनका यह सोचना गलत है ऐसा इसलिए है कि कोई भी इंसान जन्म से क्रिएटिव नहीं होता है ।

क्रिएटिविटी स्किल हर इंसान के अंदर होती है ,कई बार ऐसा होता है कि हम कार्य तो करते हैं लेकिन अपने कार्य को अलग ढंग से पेश करना हमें आता नहीं ।जिसके कारण हम लोगों से पीछे रह जाते हैं और सोचते हैं कि हम में ही कहीं कमी है ।

क्रिएटिविटी स्किल डेवलप करने के लिए आप अपने काम को कैसे सही ढंग से लोगों के सामने पेश कर सकते हैं यह आपको सोचना होगा क्योंकि क्रिएटिव कार्य सबको पसंद आता है जब आप बचपन में कुछ नया करने के लिए अपने क्रिएटिविटी स्किल का इस्तेमाल करते थे तो आप लोगों से हटकर कुछ different कार्य करते थे जिसके कारण आपका नाम लिया जाता था ।

वही कार्य आपको अपने जीवन में भी करना है अपने कार्य के अंदर कुछ क्रिएटिविटी डालें ताकि लोग आपके कार्य को पसंद करें और आपकी तारीफ इस जग में होने लग जाएं ।

जब आपका कार्य एक अलग और नए ढंग से लोगों के सामने पेश करेंगे तो आपका कार्य अलग होने के कारण उसके तरफ लोगों का ध्यान आकर्षित होगा ।

अध्याय 12. संचार (Communication)

कोई भी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आपके अंदर कम्युनिकेशन स्किल होना चाहिए क्योंकि हम अकेले आगे नहीं बढ़ सकते हमें लोगों की आवश्यकता पड़ती है यदि आप अपने बोलचाल का ढंग सही करे तो आप लोगों को अपने कार्य के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं और जरूरत पड़ने पर उनके काम भी आ सकते हैं ।

जब आप अपने कार्य में लगे रहता है तो आपको कोई भी पसंद नहीं करता यदि आप दूसरों की लाइफ में कुछ वैल्यू ऐड करेंगे तो वह आपको पसंद भी करेंगे और हो सकता है कि वह आपके लक्ष्य को प्राप्त करने में आपकी सहायता भी कर दे ।

आपके बोले हुए लफ़्ज़ों से आप लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर सकते हैं क्योंकि प्रभावशाली व्यक्ति ही अपने ओर लोगों को आकर्षित करता है जिसके कारण उसके कार्य और नाम बढ़ाते जाते है ।

लोगों की समस्या सुनने के बाद उसका समाधान सरल तरीके से पेश करना एक र्स्वउत्तम व्यक्ति की निशानी है।

जिस व्यक्ति का कम्युनिकेशन स्किल अच्छा नहीं होता वहां व्यक्तिगत और प्रोफेशनल दोनों जगह ही अपनी जगह नहीं बन पाता ।

Bob Proctor द्वारा लिखित “12 Power Principles for Success ”इस बुक से आपने काफी कुछ सीखा होगा आप कौन से बिंदु को ज्यादा महत्व देने वाले हैं कमेंट के जरूर बताइएगा ।

Success quotes in Hindi 

  • Eleanor Roosevelt का कहना है कि आप आत्मविश्वास बढ़ना चाहते हैं तो आपको वह कार्य करना होगा जिस कार्य से आपको डर लगता है ।
  • Theodore Roosevelt का कहना है कि कोई भी निर्णय न लेने से बेहतर है कि कोई निर्णय लिया जाएं चाहे उसमें परेशानियों का समाना क्यों ना करना पड़े ।
  • Mark Zuckerberg – कोई भी रिस्क ना लेना सबसे बड़ा रिस्क होता है ।

हे दोस्तों !आपको यह यह लेख “12 Power Principles for Success in Hindi ”  बेहद फायदेमंद लगा होंगा क्योंकि इन 12 पॉइंट्स के जरिए आप अपने पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों लाइफ में changes ला सकते हैं और यह बदलाव आपकी जिंदगी में खुशहाली जरूर आएगा ।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

Follow by Email
YouTube
Pinterest
LinkedIn
Share
Instagram